7 Qc Tools In Hindi

7 Qc Tools In Hindi गुणवत्ता के सात बुनियादी उपकरण

7 Qc Tools In Hindi: गुणवत्ता के सात बुनियादी उपकरणों का उपयोग. प्रोडक्ट की गुणवत्ता मे त्रुटिय निकलके उसपर समाधान खोजने के लिए किया जाता है.

यह गुणवत्ता के सात बुनियादी उपकरणों को आधारभूत कहा गया है. क्योंकि इनका इस्तेमाल अंकोमें में न्यूनताम औपचारिक प्रशिक्षण वाले लोग भी करते है.

और यह सबके लिए समझने में भी आसन है. इन सात बुनियादी उपकरणों की खोज जापान में कोरू इशिकावा ने किया था.

सातों उपकरण बेनेकी के सात प्रसिद्ध हथियारों से प्रेरित है. 7 qc Tools मुख्य उपयोग गुणवत्ता सम्बंधित कठिन समस्यों को सुलझाने के लिए.

किया जाता रहा है .7 Qc Tools के इस्तेमाल में सबसे पहले अंक( data) संग्रह करते है. उसके बाद उन अंको (data) का विश्लेषण करते है.

फिर समस्या को ठिकसे समझने के बाद उसका निवारण करते है.

Data Collection—-> Data Analysis——–>Identification of Root Cause——–>solving The issue—-> Measuring The Results

इस तरह 7 Qc Tools की मदत से प्रोडक्ट की समस्यों सुलझा के उनकी गुणवत्ता बढाई जाती है. और उनमे मिलने कमियों को दूर किया जाता है.

वास्तविकता 7 Qc Tools में diagram ,chart ,sheet की मदत से समस्या संबंधित जानकरी इक्कठा की जाती है.फिर उस जानकरी के आधार पर गुणवत्ता सुधार हेतु निर्णय लिए जाते है

और लेख पढ़े Albert Einstein Quotes In Hindi

7 Qc Tools In Hindi   गुणवत्ता के सात बुनियादी उपकरणों की सूचि

  1. Cause-and-effect diagram (also known as the “fishbone diagram” or Ishikawa diagram)– कारण और प्रभाव आरेख.

2. Check sheet —- हिंदी में— जांच पत्र
3. Control chart– हिंदी में —नियंत्रण संचित्र
4. Histogram—हिंदी में –आयतचित्र
5. Pareto chart—-हिंदी में —परेटो चार्ट
6. Scatter diagram – Stratification (alternatively called flow chart or run chart) —हिंदी में —-तितर बितर आकृति7. Stratification (alternately, flow chart or run chart)

7 Qc Tools In Hindi गुणवत्ता के सात बुनियादी उपकरणों की जानकरी

 

1. Cause-and-effect diagram

Cause-and-effect diagram को फिशबोन डायग्राम अथवा इशिकावा डायग्राम भी कहते है.क्योंकि इस डायग्राम की संरचना मछली के हड्डियों के ढाचे सामान होती है.

पहली बार १९२० के दशक में इसे इस्तेमाल किया गया था. उसके बाद इस आरेख को १९६० के दशक में कोरू इशिकावा ने जापान विख्याति दिलाई थी.

Cause-and-effect diagram का मुख्य इस्तेमाल Products डिजाइन और उसकी गुणवत्ता में दोष,कमी को रोकने के लिए है.

और जिनसे समस्या का निर्माण हुई है.उन सभी संभावित मूल कारण की पहचान करने के लिए किया जाता है.

अर्थात इस Qc Tool का उपयोग करते वक्त उन सभी कारणों का पता लगाया जाता है. जिनकी वजह से प्रोडक्ट के क्वालिटी खराब हो गई है.

याफिर हो रही है. इस diagram के प्रयोग में मछली का सिर को दोष[Defect] माना जाता है.

मछली की दाईं और बनी बाईं ओर फैली हुई मछली की हड्डियों और पसलियों को समस्या निर्माण होने के मूल कारण स्रोत,और कारण होते है.

Mazda Motors इस कंपनी ने अपने के लिए Cause-and-effect diagram का इस्तेमाल किया था.

Ishikawa diagram में उत्पाद की गुणवता में निर्माण होने वाली समस्या और समस्या के सभी संभावित कारणों का पता लगने के लिय 8 ps , 6 ms और 4 Ss का इस्तेमाल किया जाता है.

 

7 Qc Tools In Hindi
fishbone diagram

निम्नलिखित 8 ps , 4 ms और 4 Ss

8 ps
Product (or service)
Price
Place
Promotion
People (personnel)
Process
Physical evidence (proof)
Performance

The 4 Ss
Surroundings
Suppliers
Systems
Skill

6Ms

Man
Machine
Material
Method
Mesurement
Mother Nature

और लेख पढ़े  Warren Buffett Quotes In Hindi

2. Check sheet

चेक शीट 7 टूल में सबसे आसान और सबसे अधिक उपयोग. में आने वाला बुनियादी उपकरणों में से एक है.

जिसका इस्तेमाल लगभग हर तरह कंपनियों में किया जाता है. इस बुनियादी उपकरण में रिकॉर्ड किया जानेवाला डेटा.

रियल टाइम होता है. यानिकी उस (स्थान) कंपनी में जब वह तैयार हो रहा होता है. उसी समय पर वह डेटा एकत्रित किया जाता है.

उसके बाद एकत्रित किया गया डाटा quantitative अथवा qualitative भी हो सकता है.जब डाटा quantitative होता है.

तो इसे चेक शीट की जगह tally sheet भी कहा जाता है. चेक शीट टूल में किसी भी प्रक्रिया का निरिक्षण करके. उसके सन्दर्भ में निर्माण होने वाले आउटपुट को उसी समय पर चेक शीट में लिखा जाता है.

उदाहरण फार्मा manufacturing कम्पनी में केमिकल की मात्र मापने के लिए Check sheet का इस्तेमाल किया जाता है.

7 Qc Tools In Hindi
This image is about 7 Qc Tools In Hindi

3. Control chart

Control chart को प्रक्रिया-व्यवहार चार्ट और Shewhart charts के नाम से भी पहचाना जाता है.क्योंकि सन १९२० में मिस्टर वाले वाल्टर ए शेहरट ने ही Control chart को इजाद किया था.

Control chart एक प्रकार का सांख्यिकीय प्रक्रिया नियंत्रण उपकरण है. इसका प्रयोग यह निश्चित करने की लिए. किया जाता है की विनिर्माण या व्यवसाय प्रक्रिया नियंत्रण में है या नहीं.

नियंत्रण चार्ट का उपयोग समय-श्रृंखला की जानकरी के लिए किया जाता है.

7 Qc Tools In Hindi
Control chart

4 Histogram

Histogram qc tool — जानकरी एकत्रित करने की प्रक्रिया पूरी होने के बाद. उसके विभाजन को समजने के लिए Histogram की जरुरत होती है.

numerical डाटा का वितरण बहेतर तरीकेसे करने के लिए.Histogram इस उपकरण का उपयोग होता है.

बुनियादी उपकरण आयतचित्र (Histogram) का सबसे पहले इस्तेमाल कार्ल पियर्सन ने किया था.

एक अच्छा हिस्टोग्राम बनाने के लिए. कमसे काम 30 अंको का value डाटा चाहिए.

और अगर किसी बड़ी उत्पादक कंपनी का Histogram बनाना होगा तो १०० से भी अधिक numerical डाटा की आवश्कता होती है.

क्योंकि Histogram- बुनियादी उपकरण का इस्तेमाल करने के लिए.

जितना ज्यादा डाटा इस्तेमाल किया जाता है. उतना ही बहेतर Histogram और Analisis मिलता है.

7 qc tools in hindi
Histogram

और लेख पढ़े  Krishna Quotes In Hindi

5. Pareto chart

Pareto chart Qc Tools में दो “Y” एक्सिस और एक “X”एक्सिस होते है. उत्पाद निर्माण में आने वाली गुणवत्ता संबंधित सभी समस्याएं हम एक साथ नहीं सुलझा सकते.

इसलिए Pareto chart के एनालिसिस में. हमे मुख्य और सबसे पहले कौनसी समस्या सुलझाने की जरूरत होती है.

यह पता चलता है और बाकि समस्याओं को उनकी priority के हिसाब से बांटा जाता है.

Pareto chart की रचना बार चार्ट और लाइन चार्ट की मदत से की जाती है.जिसमे बार individual values descending Order में दर्शाते है और लाइन चार्ट cumulative total को दर्शाते है.

Pareto सिद्धांतो पर इस चार्ट का नाम  परेटो चार्ट रखा गया. है

7 qc tools in hindi
Pareto Chart

6. Scatter diagram

Scatter diagram और scatterplot, scatter graph, scatter chart, scattergram, or scatter plot भी कहा जाता है.

उत्पाद की गुणवत्ता में किसी भी समस्या के निर्माण के सभी कारण.

और उन कारणों का और कौन कौन से और विभिन्न प्रभाव उत्पन हो रहे है.

इस जानकारी के प्राप्त होने के बाद. उसी जानकारी से Scatter diagram बनाया जाता है.

तितर बितर आकृति (Scatter graph) का एनालिसिस करते वक्त कौनसे भी दो चर (variables) का आपस कैसे संबंधित है. यह जानने की आवश्कता होती है.

एकही प्रकार का सम्बन्ध दो variables में है भी के नहीं. यह जानने की आवश्कता भी होती है. यह Qc Tools डाटा के बीच का संबंध पहचाने के लिए उपयोगी है.

7 qc tools in hindi
Scatter diagram

7. Stratification (alternately, flow chart or run chart)

Stratification , flow chart —-यह बुनियादी उपकरण इस्तेमाल करने में और समझने भी सबसे आसान है.

flow chart उसके नाम की तरह जी एक Sequence में काम करता है. फ़्लोचार्ट को स्टेप बाय स्टेप flow में आसानी से कोइ भी समझ सकता है.

फ्लो चार्ट में arrow से different shape के आकार एक साथ जोड़े जाते है. यह डाटा एनालिसिस करना सबसे आसान है.

सभी डाटा arrows और shapes में प्रस्तुत करने पर हमे समस्या का पता चलता है. Stratification से हमे सुधार की जरुरत कहा कहा है. यह जानकरी आसानी से और जल्दी मिलती है.

Pradhan mantri rojgar yojana 2021

Type of flow chart  फ्लो चार्ट का प्रकार

Process flow chart -प्रोसेस फ्लो चार्ट

Data flow chart —डेटा प्रवाह चार्ट

Business process modelling diagram —व्यवसाय प्रक्रिया मॉडलिंग आरेख

8.Benefits Of Quality Control (7 qc tool) क्वालिटी कंट्रोल से होने वाले फायदे

  1. क्वालिटी कंट्रोल से कम्पनी कहा गलती कर रही है. जिससे प्रोडक्ट क्वालिटी खराब होती है. यह पता चलता है.
  2. क्वालिटी कंट्रोल मैन्युफैक्चरिंग और सर्विसेस सेक्टर कम्पनी के प्रोडक्ट और बेहतरीन बनते है.
  3. क्वालिटी कंट्रोल से कम्पनी के काम करने के तरीकों में में सुधार आता है.
  4. क्वालिटी कंट्रोल प्रक्रिया लागत (process cost) को कम करता है. जिससे कम्पनी और ग्राहक दोनों को फायदा होता है.
  5. प्रोसेस कॉस्ट घट ने से कम्पनी ग्राहक को कम दामो में प्रोडक्ट उपलब्ध करा सकती है.
  6. क्वालिटी कंट्रोल से कम्पनी कम समय में ज्यादा प्रोडक्ट बना सकती है.
  7. क्वालिटी कंट्रोल से कम्पनी में अनुशासन (discipline) आता है.
  8. क्वालिटी कंट्रोल कम्पनी और ग्राहक के बीच के संबंधों में सुधार आता है (customer relationship)

नमस्कार दोस्तों आपको 7 qc tools in Hindi यह पोस्ट कैसी लगी यह कमेंट करके जरुर बताये और इस पोस्ट में और

 

हमारे ब्लॉग के और रोचक लेख पढ़े

हमारे ब्लॉग पर बच्चो के लिए रोचक कहानिया और लेख

बेहत डरावनी कहानिया 

हमारे ब्लॉग की भक्तिमय ब्लॉग पोस्ट 

 

सबसे अधिक लोकप्रिय

One thought on “7 Qc Tools In Hindi गुणवत्ता के सात बुनियादी उपकरण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *